Computer

Keyboard क्या है ? कितने प्रकार के होते है ? सभी Key की जानकारी हिंदी में

आप कंप्यूटर चलते है तो जरुर आप ने कीबोर्ड भी इस्तेमाल किया होगा. क्या आप को सभी key के function पता है. कौन सी की क्या काम करती है. आजकल एग्जाम में ये सब keyboard के बारे में पूछा जाता है .

keyboard क्या है और इसकी सभी key की जानकारी हिंदी मे

keyboard-kya-hai-its-types
Keyboard

कीबोर्ड क्या होता है ? कैसे इस्तेमाल करते है ? आप ने लैपटॉप या कंप्यूटर चला रहे है तो आप ने कीबोर्ड को टाइपिंग के लिए उसे किया है. हम इसका इस्तेमाल डाटा एंट्री के लिए करते है. वैसे आप को कीबोर्ड के बारे में पता होता , परन्तु क्या आप को सभी key के बारे में पता है , नही चलो आज हम आप को keyboard के पूरी जानकारी प्रधान करते है. जिससे आप के सारे डाउट क्लियर हो जायेगे.

कीबोर्ड क्या है ?

यह एक input Device है जो computer में command, Numerical data, और text data एंट्री के काम आता है. हमें कंप्यूटर में कुश भी कम करने के लिए keyboard और mouse की जरूरत पड़ती है.

जो हम data इंटर करते है उसको machine language में बदल देता है, जिससे CPU उस data और instruction को समझ कर कार्य करता है.

Keyboard को Computer से कैसे कनेक्ट करे?

हमे लैपटॉप के साथ तो कोई कीबोर्ड कनेक्ट करने की जरूरत नही पड़ती यदि हम एक्स्ट्रा लगाना है तो आजकल सीधा USB connect कर सकते है.

computer में जोड़ने के लिए आजकल USB (Universal Serial Bus) और wireless connector का इस्तेमाल करते है. इसे कनेक्ट करना आसान है . परन्तु wireless keyboards में बैटरी प्रॉब्लम होती है और आप अपने एरिया में एक और रेडियो सिग्नल जोड़ रहे है. वैसे ये अन्य के मुकाबले portable होता है.

Keyboard कितने प्रकार के होते है ?

वैसे बहुत से प्रकार के keyboard layout मोजूद है, जिनकों region , भाषा के हिसाब से बनाया गया है.और हमारे देश में कौन से layout इस्तेमाल होता है. ऐसा अकसर बैंक, SSC या अन्य Competitive exam में प्रशन पूछे जाते है.

QWERTY : इस layout और दुनिया में सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जाता है. इसका नाम आप के कीबोर्ड के पहले 6 अक्षरों को जोड़ कर रखा गया है, जो आप के की बोर्ड केTop Row में है. हमारे भारत में भी QWERTY Pattern वाले कीबोर्ड इस्तेमाल किये जाते है. इसलिए हमें ऐसा लगता हे की यही एक टाइप का कीबोर्ड होता है.

QWERTY-layout-keyboard
QWERTY Layout Keyboard

AZERTY : इस layout ओके दुनिया में फ्रांस और बेल्जियम इस्तेमाल करते है. यह France में बनाया गया है. यह QWERTY layout का हे वैरिएंट है. इसको फ्रांस का standard France Keyboard कहते है.

AZERTY Layout keyboard
AZERTY Layout keyboard

DVORAK : इस layout को Fast टाइपिंग के लिए बनाया गया है. इसमें उंगलियो की movement कम होती है और error होने के chance कम होते है, टाइपिंग स्पीड बढाता है और यह QWERTY से ज्यादा comfortable है.

DVORAK-layout-keyboard
DVORAK Layout keyboard

परन्तु आजकल ज्यादातर लोग QWERTY layout के कीबोर्ड को use करते है.

कीबोर्ड के सभी key की जानकारी

एक कीबोर्ड में बहुत से key जैसे letter, number और symbol अलग अलग shape और साइज़ के बटन होते है.सभी की अपनी अपनी category और function होते है. आप को सभी category और function key के बारे में अलग अलग विस्तार से समझाएगे.

Function key : ये key कीबोर्ड के सबसे ऊपर होती है. ये F1 से F12 तक होती है. इनका विशेष कार्य होता है. हर प्रोग्राम में इनका अलग कम होता है. F1 से F12 तक सबी key को function key कहते है.

Control key : ये key मुख्यतः अकेले या अन्य key के साथ प्रयोग होती है. एक निश्चित कार्य करने के लिए किया जाता है. Ctrl, Alt, Window key, Esc का उपयोग Control keys के रूप में किया जाता है. इनके अलावा Menu, Scroll , Pause Break , Prnt Scr key आदि keys भी control keys में शामिल होती है.

Navigation Key : इसका प्रयोग किसी पेज या डॉक्यूमेंट में ऊपर निचे या इधर उधर जाने के लिए होता है. Arrow , Home, End, Insert, Page Up, Delete, Page Down आदि keys को Navigation key कहते है.

Typing key : सबसे ज्यदा इन्ही key का प्रयोग होता है. इसमें Alphabetical और numerical दोनों key होती है जिसको alphanumeric key भी कहते है. टाइपिंग key में सभी symbol और punctuation marks भी होते है.

Control key और उसका उपयोग


Esc Key : इस key का इस्तमाल कोई भी चल रहे काम या ऑपरेशन /task को cancel या बंद करने के लिए किया जाता है. इसको Escape Key कहते है.

Ctrl Key : इसका का पूरा नाम Control Key है. इसका इस्तमाल Keyboard Shortcuts में किया जाता है. जैसे : Ctrl+C कॉपी करने के लिए . ऐसे ही Ctrl+V, Ctrl=X.

Alt Key : इसका का पूरा नाम Alter Key है, इसका इस्तमालकिसी press की हुई key के function को change करने के लिए किया जाता है. इसको modifier key भी कहते है. 

Window Logo Key : इस Key का प्रयोग Start Menu को Open करने के लिए किया जाता है.

Shift Key : यह एक modifer key है. उसको Capital Letter और दुसरे upper Characters के लिए प्रयोग किया जाता है.

Navigation key और उसका उपयोग

Arrow Keys : ये चार प्रकार की होती है- Up Arrow, Down Arrow, Left Arrow और Right Arrow. इनका इस्तेमाल cursor को Arrows कि दिशा में ऊपर, निचे, लेफ्ट, राईट, next line, previous line के लिए किया जाता है.

Home Key : इसका इस्तेमाल cursor को किसी डॉक्यूमेंट के शुरूआत मे लाने के लिए किया जाता है. इसकी सहायता हम page और Document के शुरूआत में जा सकते है

End Key : इसका प्रयोग का इस्तमाल cursor को किसी दस्तावेज के आखिर मे लाने के लिए किया जाता है. इसकी सहायता से एक Webpage और Document के एक दम नीचे जा सकते है.

Delete Key : यह key , Cursor के बाद के text, select किए हुए text और files, folder को delete करने के लिए किया जाता है. इससे हम कुछ भी डिलीट कर सकते है.

Page Up Key : इस key का इस्तेमाल Cursor एवं किसी page को कुछ ऊपर सरकाने के लिए किया जाता है. इसे हम एक पेज से ऊपर वाले पेज पर चले जाते है.

Page Down Key : इस key का इस्तेमाल Cursor एवं किसी page को कुछ निचे सरकाने के लिए किया जाता है. इसे हम एक पेज से निचे वाले पेज पर चले जाते है.

FAQ (Frequently ask Question)

कीबोर्ड का अविष्कार किसने किया ?

क्रिस्टोफर लैथम शोलेज (Christopher Latham Sholes) एक अमेरिकी आविष्कारक ने

Toggle keys किसे कहते है ?

कंप्यूटर का वह key जिससे एक से अधिक function को प्रयोग करते हैं जैसे : Caps Lock, Num Lock, Scroll Lock, Insert key.

Modifier key कौन से है ?

Shift, Ctrl, Alt.

keyboard में कितने बटन होते है ?

104 (standard keyboard).

 QWERTY Keyboard क्या है ?

यह एक कीबोर्ड layout है. Keyboard के top row पर letters जैसे की “Q,W,E,R,T and Y” होते है. इसीलिए QWERTY Keyboard कहते है


Leave a Reply

Back to top button