Economy

Financially Healthy और Independent कैसे बने, समझें

एक व्यक्ति को वित्तीय रूप से सक्षम होना बहुत जरूरी है, अपने जीवन के सभी पड़ाव के लिए। अगर वह नहीं होता तो उसको बहुत सारी परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

financially-health
Financial Health

वित्तीय स्वास्थ्य(Financial Health) क्या है?

वित्तीय स्वास्थ्य एक शब्द है जिससे हम समझते हैं की हम कितने अच्छे से, जो हमारे पास है उसके साथ जीवन यापन कर सकते हैं। यानि की अगर आप के पास जितना कुछ है और आप उस से अपना जीवन अच्छे से बिना किसी परेशानी के व्यतीत करते हैं तो आपका वित्तीय स्वास्थ्य बहुत अच्छा है। ये हर व्यक्ति के लिए अलग अलग हो सकता है। जैसे की किसी आप व्यक्ति को जीवन यापन के लिए ठीक ठीक सुविधाएं मिल जाए तो वह आराम से अपना गुजर बसर कर सकता है। वहीं अगर कोई ऐसा व्यक्ति हो जो बहुत luxury जीवन जीने में विश्वास रखता हो उसके लिए वित्तीय स्वास्थ्य अलग होगा।

अपने वित्तीय स्वास्थ्य को कैसे समझें

अगर आप अपने वित्तीय स्वास्थ्य की बेहतर समझ प्राप्त करना चाहते हैं तो ये कुछ प्रश्न आपकी मदद कर सकते है:

  • आप अप्रत्याशित घटनाओं के लिए कितने तैयार हैं? क्या आपके पास कोई आपातकाल के लिए प्लान है?
  • आपकी वर्ष के अंत तक कुल आय क्या है? यह सकारात्मक है या नकारात्मक?
  • क्या आपके पास जीवन में आवश्यक चीजें हैं?
  • अगर आपने कोई ऋण लिया है, तो क्या प्रतिशत आप इस तरह के क्रेडिट कार्ड के रूप में उच्च ब्याज, पर विचार करेंगे? क्या यह 50% से अधिक है? अगर है तो ये एक खतरा हो सकता है।
  • क्या आप सक्रिय रूप अपने बुढ़ापे के लिए बचत कर रहे हैं? क्या आपको लगता है कि आप अपने लंबे समय के लक्ष्य को पूरा करने के लिए सही रास्ते पर हैं?
  • क्या आपके पास जरूरी बीमा है- चाहे वह स्वास्थ्य हो या जीवन?

वित्तीय स्वास्थ्य कैसे निर्धारित किया जाता है

किसी व्यक्ति की वित्तीय स्थिति को कई तरीकों से मापा जा सकता है। जैसे की एक व्यक्ति कितनी बचत करता है और आगे चलकर वह कितना आगे और जा सकता है। हर व्यक्ति के लिए यह अलग अलग हो सकता है, जैसे की वो अभी क्या कर रहा है। भविष्य में वो कितना आगे तक जा सकता है, या उसकी सैलरी कहीं काफी समय तो बड़ी ना हो। या फिर उसने किसी से कर्ज तो नहीं लिया। अगर लिया भी है तो वह कब तक उसको पूरा भुगतान कर देगा। यानि की हम कह सकते हैं की वित्तीय स्वास्थ्य एकदम से तय का निर्धारित नहीं किया जा सकता।

उदाहरण के लिए, एक व्यक्ति का वेतन स्थिर रह सकता है, जबकि गैसोलीन, भोजन, बंधक, और कॉलेज ट्यूशन वृद्धि के लिए लागत । अपने प्रारंभिक वित्तीय स्वास्थ्य की अच्छी स्थिति के बावजूद, व्यक्ति जमीन खो सकता है और गिरावट में चूक अगर वे माल की बढ़ती लागत के साथ तालमेल नहीं रखते हैं ।

मजबूत वित्तीय स्वास्थ्य के विशिष्ट संकेतों में आय का एक सतत प्रवाह, खर्चों में दुर्लभ परिवर्तन, किए गए निवेशों पर मजबूत रिटर्न, और एक नकदी संतुलन जो बढ़ रहा है और बढ़ते रहने के लिए ट्रैक पर है शामिल हैं।

अपने वित्तीय स्वास्थ्य में सुधार

अपने वित्तीय स्वास्थ्य में सुधार करने के लिए आपको स्वयं को समझना होगा की आपके जिंदगी में क्या हासिल करना है, आपको उसके लिए अभी कितना धन चाहिए या आपकी बचत कितनी होनी चाहिए। ये बिल्कुल आसान कार्य नहीं है, इसके लिए आपको आत्ममंथन की जरूरत पड़ेगी और हो सकता है की सुधार करने के लिए खुद के लिए भी कड़ी नियम बनाने पद जाए, जैसे कुछ अपनी आदतों में सुधार।

बजट

इसके बाद आपको बजट बनाने की जरूरत है। आपको बजट बनाते समय केवल ये नहीं देखना है की आप कितना लगा सकते हो, आपको ये भी देखना है की आप पहले कहां कहां लगा चुके हो और उस से लाभ हुआ है या हानि। इसके अलावा कौन से क्षेत्र ने आपको केवल लाभ ही दिया है। ।

निवेश(Investment) एक विशेष क्षेत्र है और आज के समय में और अधिक, विविधता(diversity) और प्रस्ताव पर निवेश उत्पादों को देखा जा सकता है ।

अगर आप वित्तीय(financially) रूप से स्वस्थ होना चाहते हैं तो आपको आज ही भविष्य को प्लान करना शुरू करना होगा, आपके आज के वित्तीय निर्णय आपके भविष्य के वित्तीय स्वास्थ्य की नींव रखते हैं। जैसे की एक हमारे बुजुर्ग कहते आए हैं की आपको ऐसा घर कभी नहीं खरीदना चाहिए जिसकी कीमत आपकी 2 साल और 6 महीने की कुल आय से ज्यादा हो। और जैसे की आपको अपनी आय की 10% अपने बुढ़ापे या बुरे समय के लिए हर महीने बचाना चाहिए। आइए समझते हैं ऐसे ही कुछ नियम।

ऐसे ऐसे पुरानी बाते, हमारी तब मदद करती है जब हम कोई निर्णय नहीं ले पा रहे होते हैं।

अगर आप अभी अच्छा खासा कमा लेते हैं और इसको बैंक में जमा करते रहते हैं तो यकीन मानिए आप बिल्कुल सही नहीं कर रहे हैं। क्योंकि आज के समय में एक बैंक आपको केवल 3-5% ही ब्याज देता है और अगर उसकी तुलना हम महंगाई से करें तो वो 8% के आस पास चल रही है। यानि हर साल आपका 3-5% नुकसान हो रहा है। तो इससे बचने के लिए आपको नए नए तरीके ढूंढने पड़ेंगे, जैसे शेयर मार्केट में निवेश।

पैसे सही इस्तेमाल(money management) और वित्तीय स्वास्थ्य में सुधार के कुछ तरीके ऐसे अपना सकते हैं:

कहीं भी निवेश से पहले किसी पेशेवर(Expert) की सलाह बहुत जरूरी है

निवेश एक विशेष क्षेत्र है और आज के समय में इसमे और अधिक, विविधता(diversity) यानि की चीज़े कई सारी दूसरी चीजों के साथ बदल जाती है। अगर कोई बिना समझबुझ के इसमें निवेश कर देता है तो उसको वित्तीय हानी भी उठानी पड़ सकती है। इसलिए यह जरूरी है की आप एक मार्केट की समझ रखने वाले पेशेवर की सलाह पर ही निवेश करें। धीरे धीरे आप भी चीज़े सीखने लग सकते हैं। लेकिन शुरुआत मे आपको एक पेशेवर की मदद लेनी ही होगी। ।

पहले आप समझे की पैसे कहा और क्यों लगाने हैं तभी निवेश करो

किसी भी निवेश में धन लगाने से पहले निवेश की सुदृढ़ता(कितना अच्छा है या नहीं) को मापना बहुत ही जरूरी है। उचित कारण परिश्रम और जोखिम और पुरस्कार के सावधान विचार की रक्षा और एक निवेश पोर्टफोलियो को बढ़ाने में एक लंबा रास्ता तय कर सकते हैं। निवेश के कार्डिनल नियम, जैसे वॉरेन बफे और दूसरों के रूप में दिग्गज निवेशकों का सुझाव है, कुछ है कि एक समझता है के लिए छड़ी है ।

स्वास्थ्य बीमा के लिए जाओ

स्वास्थ्य के लिए बीमा बहुत जरूरी है, अगर कोई बीमार भी हो जाए तो उसके लिए तैयार रहना भी जरूरी है। जैसे अभी COVID-19 मे बहुत से लोग बीमार हुए, कई तो जान से भी गए। ऐसे में व्यक्ति का बीमा होना भी बहुत जरूरी है। ताकि अगर कोई बीमार हो भी जाए तो आप उस समय को भी अच्छे से संभाल पाओ।

सेवानिवृत्ति यानि retirement के लिए

सेवानिवृत्ति के लिए योजना बनाना भी बहुत जरूरी है, उसके बाद कितना काम करने योग्य शरीर रहता है, या रहेगा कहा नहीं जा सकता। तो इसके लिए पहले से तैयार तो रहा ही जा सकता है।

आपातकालीन निधि

एक आपातकालीन कोष का निर्माण वास्तव में अपने वित्तीय स्वास्थ्य को बढ़ावा कर सकते हैं । फंड का मतलब यह है कि वह पैसा बचा जाता है और आपात स्थिति के लिए आसानी से उपलब्ध होता है, जैसे कार की मरम्मत या नौकरी में नुकसान । लक्ष्य के लिए अपने ऊर्जा कोष में रहने वाले खर्च के तीन से छह महीने के मूल्य होना चाहिए ।

एहसान

अपने ऋण का भुगतान करें। या तो हिमस्खलन या स्नोबॉल तरीकों का उपयोग करें। हिमस्खलन विधि के रूप में सबसे अधिक ब्याज ऋण की ओर जितना संभव हो भुगतान करते हुए सभी दूसरों पर ंयूनतम भुगतान का सुझाव है । स्नोबॉल, इस बीच, सबसे छोटी ऋण शेष पहले लेने और फिर सबसे बड़ा ऋण करने के लिए अपना रास्ता काम करने का सुझाव है ।

वित्तीय स्वास्थ्य के लिए नियम और सुझाव

जब प्रभावी व्यक्तिगत वित्त की बात आती है- अपनी वित्तीय स्थिति को टिप-टॉप आकार में रखना हमेशा आसान नहीं होता है। हम जीवन जीने के साथ पकड़े जाते हैं । हालांकि, यहां कुछ त्वरित नियम और सुझाव दिए गए हैं जिन्हें आप या तो बेहतर बनाने या आपको अच्छी वित्तीय स्थिति में रखने के लिए पालन कर सकते हैं।

  • आप अप्रत्याशित घटनाओं के लिए कितने तैयार हैं? क्या आपके पास कोई आपातकालीन निधि है?
  • आपकी नेटवर्थ क्या है? यह सकारात्मक है या नकारात्मक?
  • क्या आपके पास जीवन में आवश्यक चीजें हैं? आप चाहते हैं चीजों के बारे में कैसे?
  • अपने ऋण का क्या प्रतिशत आप इस तरह के क्रेडिट कार्ड के रूप में उच्च ब्याज, पर विचार करेंगे? क्या यह 50% से अधिक है?
  • क्या आप सक्रिय रूप से सेवानिवृत्ति के लिए बचत कर रहे हैं? क्या आपको लगता है कि आप अपने दीर्घकालिक लक्ष्य को पूरा करने के लिए ट्रैक पर हैं?
  • क्या आपके पास पर्याप्त बीमा कवरेज है- चाहे वह स्वास्थ्य हो या जीवन?

अगर आपको ये आर्टिकल अच्छा लगा हो तो नीचे comment section में बताए। अपने अपने सुझाव या प्रश्न भी लिख सकते हैं। धन्यवाद।।

Leave a Reply

Back to top button